स्वामी रामतीर्थ

आत्मानुभूति का अवलम्ब (प्राणायाम)

स्वामी रामतीर्थ प्राणायाम का शाब्दिक अर्थ होता है-श्वासं का नियंत्रण। हिन्दुओं के योग ग्रंथों में श्वांस के नियंत्रण या नियमन की आठ प्रमुख विधियां बतायी गयी हैं। परन्तु राम इनमें से केवल एक ही विधि की-अर्थात्…

Read More

किस धर्म को स्वीकार करें

परमहंस स्वामी रामतीर्थ जी महाराज ने इसके संबंध में 8 बातें बतलायी हैं- 1- किसी धर्म को इसलिये अंगीकार मत करो कि वह सबसे प्राचीन है। सबसे प्राचीन होना उनके सच्चे होने का प्रमाण नहीं…


No Picture

सा विद्या या विमुक्तये

विद्या का लक्ष्य है समस्त बंधनों से मुक्ति। उपनिषद् के ऋषि कहते हैं-सा विद्या या विमुक्तये। इन ऋषियों ने संसार का ज्ञान देने वाली विद्या को भी अविद्या कहा है। संसार से संबंधित ज्ञान भी…


सेठ जी के सवाल का जवाब

स्वामी हरिओम जी की पुण्य स्मृति पर विशेष काका हरिओम निखिल दुनिया ब्यूरो। दिखाई देने और होने में अक्सर बहुत फर्क होता है। संत जो अंदर से होते हैं, दिखाई नहीं देते और संसारी जो…


शंकराचार्य और स्वामी विवेकानंद ने बदला स्वामी रामतीर्थ का जीवन

निखिल दुनिया ब्यूरो। अंग्रेजी साहित्य के सुप्रसिद्ध नाटककार शेक्सपीयर ने लिखा है-‘कुछ लोग जन्म से ही महान होते हैं, कुछ महत्ता प्राप्त करते हैं और कुछ व्यक्तियों पर महत्ता लाद दी जाती है।’ प्रतिभा, पांडित्य…


4 दिसंबर को स्वामी हरिओम महाराज की 62 वीं पुण्य स्मृति

  काका हरिओम। निखिल दुनिया ब्यूरो। स्वामी हरि ओउम जी महाराज ने स्वामी रामतीर्थ जी महाराज की पावन परंपरा को समृद्ध करने के उद्देश्य से देश के विभिन्न नगरों में स्वामी रामतीर्थ मिशन की शाखाओं…


स्वामी रामतीर्थ का विज्ञान और अध्यात्म का समन्वय

निखिल दुनिया ब्यूरो। अधिकांश लोग सोचते हैं कि विज्ञान और अध्यात्म एक-दूसरे के विपरीत हैं। मगर हकीकत में दोनों एक दूसरे के शत्रु नहीं एक ही सिक्के के दो पहलू हैं। विज्ञान हमें अध्यात्म से…